mann ki baat
print
​स्वच्छ भारत अभियान

  • स्वच्छ भारत अभियान आम जन का आंदोलन बन गया है जिसमे प्रत्येक आम नागरिक पूरे जोश के साथ भाग ले रहा है।
  • स्वच्छ भारत मिशन का उद्देश्य व्यक्तिक, सामूहिक या सामुदायिक शौचालयों के निर्माण के माध्यम से खुली शौच को कम करना या समाप्त करना है।
  • स्वच्छ भारत मिशन लैट्रिन उपयोग की निगरानी के लिए एक जवाबदेह तंत्र बनाने की भी एक पहल करेगा।

Also Read: The Big Picture – 25 Years of Economic Liberalisation: Where Are We?

  • यह सरकार 2 अक्टूबर 2019 तक, महात्मा गांधी के जन्म की 150 वीं वर्षगांठ पर ग्रामीण भारत में 1.2 करोड़ शौचालयों का निर्माण करके, 1.96 लाख करोड़ रुपये (यूएस $ 30 बिलियन) के परियोजना द्वारा खुले में शौच मुक्त भारत का लक्ष्य प्राप्त करना चाहती है।

मन की बात

  • यह अपनी तरह से पहली बार है कि प्रधान मंत्री हर महीने के आखिरी रविवार को रेडियो से नागरिकों से सीधे बातचीत करते हैं, यह जनता के साथ सरकार के प्रमुख से एक अनूठी बातचीत है।
  • लाखों लोग इस कार्यक्रम की बात सुनते हैं तथा अपने सुझावों को प्रस्तुत करते हैं।

MyGov मंच

  • MyGov मंच नागरिकों को ‘चर्चा’ और ‘कार्य’ दोनों के लिए एक अवसर प्रस्तुत करता है।
  • इसे एक अनोखे पथ के पहल के रूप में लागू किया गया है जो विदेशों के नागरिकों के साथ-साथ देशी नागरिको को कई विषय-आधारित चर्चाओं में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करती है।
  • योगदानकर्ता द्वारा साझा किये गये किसी भी विचारो की चर्चा इन चर्चा मंचों पर भी होगी जिसमें रचनात्मक प्रतिक्रिया और संपर्क की अनुमति होगी।
  • इसका लक्ष्य नागरिकों और सरकार को जोड़ते हुए समागम कर सुशासन का लक्ष्य प्राप्त करना है।

Read in English: 3 years of Modi: Creating new India with unprecedented public people partnership

  • इस मंच से प्राप्त सुझावों को ठीक से संकलित कर पहुंचाया गया है।
  • इस मंच के माध्यम से कई योजनाओं के लिए विचारों, डिजाइनों और नारो की अधिक मात्रा में प्राप्ति हुई है।
  • उन लोगों के लिए जो विचार-विमर्श से आगे जाना चाहते हैं और जमीन पर योगदान करना चाहते हैं उन्हें MyGov ऐसा करने के लिए कई अवसर प्रदान करता है। नागरिक विभिन्न कार्यों के लिए स्वयंसेवा कर सकते हैं और अपनी प्रविष्टियां जमा कर सकते हैं। इन कार्यों के बाद अन्य सदस्यों और विशेषज्ञों द्वारा समीक्षा की जाएगी। एक बार स्वीकृत होने पर, ये कार्य MyGov पर अन्य सदस्यों द्वारा तथा उन लोगों द्वारा साझा किए जा सकते हैं जो काम को पूरा करते हैं। प्रत्येक अनुमोदित कार्य को पूरा करने वाले क्रेडिट अंक अर्जित करेंगे।
  • इस मंच को विभिन्न समूहों में विभाजित किया गया है, जैसे- स्वच्छ गंगा, लड़की बाल शिक्षा, स्वच्छ भारत, कुशल भारत, डिजिटल भारत, नौकरी निर्माण। प्रत्येक समूह में ऑनलाइन और भूमि स्तर पर कार्य होते हैं जो योगदानकर्ताओं द्वारा किये जा सकते हैं।
  • प्रत्येक समूह का उद्देश्य लोगों की भागीदारी के माध्यम से उस क्षेत्र में गुणात्मक परिवर्तन लाने के लिए है।
  • यह आभासी समुदाय 42 लाख पंजीकृत उपयोगकर्ताओं के साथ बहुत लोकप्रिय हो गया है।
  • राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र (एनआईसी), इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग और सूचना प्रौद्योगिकी (डीआईटीआई) इसका संचालन और प्रबंधन करता है जोकि सुव्यवस्थित शासन में नागरिकों के सहयोग की सुविधा देता है।

Note: Want to share this story with someone? Just click on the icons below.

Leave a Reply