print
  • लगभग 2200 साल पहले मौर्य साम्राज्य का पतन हो गया था।
  • इसके स्थान तथा अन्य जगहों पर कई नए राज्यों का उदय हुआ।
  • उत्तर-पश्चिम में और उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में कुछ भारतीय-ग्रीक राजाओं को जाना जाता है जिन्होंने लगभग 100 वर्षों तक शासन किया था।

Read in English: What happened after the decline of the Mauryan Empire?

  • उनके बाद मध्य एशियाई लोग आए जिन्हें शाक्य के नाम से जाना जाता था, जिन्होंने उत्तर-पश्चिम तथा उत्तरी और पश्चिमी भारत में राज्य स्थापित किए थे
  • जब तक कि शाक्य गुप्त राजाओं द्वारा पराजित नहीं हुए थे तब तक इन राज्यों में से कुछ लगभग 500 वर्षों तक चले थे।
  • लगभग 2000 साल पहले शाक्य को कुषाणो ने अनुगमन किया था।
  • उत्तर में और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में पुष्यमित्र शुंग नामक मौर्यो के सेनापति ने एक राज्य स्थापित किया था।
  • लगभग 1700 साल पहले गुप्त साम्राज्य की स्थापना तक शुंगों के बाद अन्य परिवारों के शासक तथा एक अन्य राजवंश जिसे कण्व के रूप में जाना जाता है, ने शासन किया।
  • पश्चिमी भारत के कुछ हिस्सों पर शासन करने वाले शाक्य ने सातवाहनों के साथ कई लड़ाईयां लड़ी जिन्होंने पश्चिमी और मध्य भारत के कुछ हिस्सों पर शासन किया था।
  • 2100 साल पहले स्थापित हुआ सातवाहन साम्राज्य लगभग 400 वर्षों तक चला था।
  • लगभग 1700 साल पहले, एक नया शासक परिवार, जिसे वाकाटक के नाम से जाना जाता था, मध्य और पश्चिमी भारत में शक्तिशाली हो गया।
  • दक्षिण भारत में चोल, चेर और पांड्य ने 2200 और 1800 साल पहले के बीच शासन किया था।
  • लगभग 1500 साल पहले वहां दो बड़े साम्राज्य पल्लवो और चालुक्यों के थे।
  • उस समय अन्य बदलाव भी हो रहे थे जिसमें साधारण पुरुष और महिलाओ ने एक प्रमुख भूमिका निभाई थीं
  • इसमें कृषि के प्रसार, नए शहरों की स्थापना, शिल्प उत्पादन तथा व्यापार की वृद्धि शामिल थी।
  • व्यापारियों ने उपमहाद्वीप के बाहर एवं भीतर के भूमि मार्गों का पता लगाया तथा पश्चिम एशिया, पूर्वी अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया के समुद्र मार्ग भी खुल गए थे।
  • कई नए भवनों का निर्माण किया गया जिनमे प्राचीन मंदिर और स्तूप भी शामिल थे तथा नयी किताबें लिखी गईं और नए वैज्ञानिक खोज की गयी।

    Leave a Reply