brahmaputra trib
print

ब्रह्मपुत्र नदी

  • यह तिब्बत में मानसरोवर झील के दक्षिण-पूर्व में स्थित चेमायुंगडुंग ग्लेशियर से निकलती है। जो कि सिंधु और सतलुज के स्रोतों के बहुत करीब है।
  • यह सिंधु से थोड़ी लम्बी है, और इसका अधिकांश बहाव क्षेत्र भारत के बाहर स्थित है।
  • तिब्बत में, नदी में पानी की कम मात्रा और थोड़ी गाद होती है क्योंकि यह एक ठंडा और सूखा क्षेत्र है।
  • यह नदी पूर्व की ओर लगभग 1100 किलोमीटर दक्षिण में ग्रेट हिमालय रेंज और उत्तर में कैलास रेंज के बीच हो कर बहती है।
  • नामचा बरवा पहुंचने पर, यह एक ‘यू’ मोड़ लेती है और एक संकुचित मार्ग (Gorge) से हो कर अरुणाचल प्रदेश के रास्ते भारत में प्रवेश करती है।
  • यहाँ, इसे दिहांग कहा जाता है और दिबांग, लोहित और कई अन्य सहायक नदियां इसमें मिल जाती हैं। असम में यह ब्रह्मपुत्र बन जाती है। यह सदिया के पास असम में प्रवेश करती है।
  • भारत में, यह उच्च वर्षा वाले क्षेत्र से गुजरती है। इसलिए, इसमें बड़ी मात्रा में पानी और काफी मात्रा में गाद (Silt) आ जाती है।
  • ब्रह्मपुत्र की असम में अपनी पूरी लंबाई में एक गुंथी हुई प्रणाली है जो कई नदीद्वीपों (riverine islands ) का निर्माण करती है। ब्रह्मपुत्र नदी द्वारा बनाया जाने वाला नदीद्वीप माजुली दुनिया का सबसे बड़ा नदीद्वीप है ।
  • इस नदी के तल में भारी तादाद में गाद जमा होती है, जिससे नदी का तल ऊंचा उठ जाता है। नदी अपने बहाव को भी अक्सर बदलती रहती है।
  • इसलिए हर साल बारिश के मौसम के दौरान नदी अपने किनारों से बाहर निकल जाती है, जिससे असम और बांग्लादेश में बाढ़ आ जाती है और व्यापक तबाही होती है।
  • इसे तिब्बत में त्सांग पो और बांग्लादेश में जमुना के नाम से जाना जाता है।
  • बांग्लादेश में, यह गंगा में विलीन हो कर पद्मा नदी का रूप ले लेती है।
  • पद्मा मेघना से मिलती है जो बंगाल की खाड़ी में गिरती है।
  • भारत में, यह अरुणाचल प्रदेश, असम, पश्चिम बंगाल, मेघालय, नागालैंड और सिक्किम राज्यों से होकर बहती है। जल निकासी क्षेत्र का राज्यवार वितरण है:
Drainage

सहायक नदियों

  • उत्तरी तट की सहायक नदियां

1. जिआंधल

2. सुबानसिरी

3. सियांग (दिहांग)

4. कामेंग (असम में जीभाराली)

5. धनसिरी (उत्तर)

6. पुथिभारी

7. पागलादिया

8. मानस

9. चंपामती

10. सरलभंगा

11. आए

12. बोरनाड़ी

13. बोरोलीआ

14. गाभरू

15. पहुमारा

  • दक्षिण तट की सहायक नदियाँ

1. नोआ देहिंग

2. बुरीदेहिंग

3. देबांग

4. दिखोव

5. नागालैंड से निकलने वाली धनसिरी (दक्षिण)

6. कोलांग कपिली

7. दिगारू

8. दूधनई

9. कृष्णाई

10. कुलसी

11. दिसांग

12. झांजी

13. जिनरी

  • इसके अलावा, 6 सहायक नदियाँ जैसे कि तिस्ता (सिक्किम में निकलती हैं), संकौश, रैदाक- I, रैडक- II, तोर्सा और उत्तरी पश्चिम बंगाल से बहने वाली जलध्का भी ब्रह्मपुत्र की मुख्यधारा में शामिल हो जाती हैं लेकिन, बांग्लादेश के मैदानी इलाकों में।

Read More…

Himalayan Rivers- Ganga River System
Himalayan Rivers- The Indus River system

Leave a Reply